Add

Monday, February 21, 2011

फुरसत में कभी हो अगर -तारकेश्वर गिरी.

फुरसत में कभी हो अगर
तो दो पल हमें भी देना.
अपना प्यार.

हम तो यूँ ही बस
खाली-खाली से सोचते हैं
कौन हैं मेरा यार.
Post a Comment