Add

Thursday, February 11, 2010

मेरा नाम है अजय कुमार झा- कोई शक

अगर आप के दिल मैं कोई शक है तो बताइए , नहीं तो मान जाइये की जो मैं कह रहा हूँ सही कह रहा हूँ, है किसी मैं दम जो इतनी बड़ी पोस्ट लिख दे और वो भी बिलकुल सिलसिलेवार नहीं ना , तो फिर मान जाइये।
आखिर अजय जी की मेहनत की कोई भाई तो तारीफ करे इतना बड़ी ब्यवस्था और इतना साफ सुथरा, अरे ये कोई नबाबी शहर थोड़े है जो की लोग .........................
भाई कमाल की ब्यस्था की थी अजय भाई ने, मानना पड़ेगा, उनको और उनकी ब्यस्था को ,
बस दुःख है तो इसी बात का की मेरी फोटो सिर्फ एक बार पोस्ट की गई है जबकि कई ब्लोगेरो ने अपनी अपनी तरह से सबकी फोटू खिची थी।
Post a Comment