Add

Thursday, March 3, 2011

अभी भी अधुरा हैं इस्लाम - तारकेश्वर गिरी.

दुनिया के ५० देशो में जिसकी हकुमत चलती हो , वो भी आज अधुरा हैं. वजह हैं , अज्ञानता . एक तरफ पूरी दुनिया इस्लामिक आतंकवाद से परेशान हैं , तो दूसरी तरफ भारत में बैठे कुछ बुधजिवी वर्ग इस्लाम कि एक नई तस्वीर दुनिया के सामने लाने में लगे हुए हैं.

आखिर इस्लाम हैं क्या...................................... ?

क्या सचमुच इस्लाम शांति का सन्देश देता हैं , अगर देता हैं तो क्यों हजारो निर्दोष इस्लाम और ईस निंदा के नाम पर मारे जाते हैं.

क्यों पाकिस्तान कि हालत ईस समय सिर्फ इस्लाम के नाम पर ख़राब हो रही हैं. आज कि हालत ये हैं कि पाकिस्तान में गैर मुस्लिम नहीं रह सकता . आखिर क्यों.---------------------- ?

क्या पाकिस्तान सिर्फ मुसलमानों के लिए बना हैं. किसी और धर्म के लिए नहीं.

क्या कुरान कि आयते कहती हैं कि, -- हे मुसलमानों मारो तुम. उन सबको जो मुसलमान ना हो..
Post a Comment