Add

Saturday, February 12, 2011

अखिल भारतीय भ्रस्टाचार कमिटी कि अध्यक्षा हैं श्रीमती सोनिया गाँधी. -------- तारकेश्वर गिरी

जी बिलकुल आज कल अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी का नाम बदल कर के अखिल भारतीय भ्रस्टाचार कमिटी कर दिया गया हैं. और ये सुझाव भारत सरकार के मंत्रिमंडल कि अहम् बैठक में लिया गया हैं. क्योंकि आये दिन नए नए टाइप के घोटाला, मीडिया और जनता के सामने आ रहे हैं. तदुपरांत भ्रस्टाचार पार्टी कि मुखिया श्रीमती सोनिया गाँधी (जन्म स्थान इटली) ने ये फैसला लिया कि हम अपनी पार्टी का नाम बदल कर के अखिल भारतीय भ्रस्टाचार कमिटी रख देते हैं. जिस से कि जनता और मीडिया को आसानी रहेगी.


भारत सरकार के माननीय प्रधान मंत्री महोदय, श्रीमान मनमोहन सिंह जी ने भी अपनी मोहर लगा दी हैं.इसकी वजह उनकी चुप्पी हैं. लगातार चुप रहने कि आदत ने मनमोहन सिंह कि खुद कि छवि को और निखार दिया हैं. श्रीमान मनमोहन सिंह जी आजाद भारत के ऐसे प्रधानमंत्री हैं जो आदेश देते नहीं बल्कि किसी और के आदेशो पर चलते हैं. पूरी दुनिया में अपने ज्ञान का लोहा मनवा चुके हमारे आदरणीय प्रधानमंत्री श्रीमान मनमोहन जी के ज्ञान पर अब जंग लग गया हैं. आखिर लोहे कि भी कोई उम्र होती हैं.

श्रीमती सोनिया गाँधी जी अपने भ्रष्ट शासन काल के दौरन ( अभी चल रहा हैं) दो कामो पर ज्यादा ध्यान दिया हैं, पहला दबा करके घोटाले बाज मंत्री और अधिकारीयों कि भर्ती करना और दूसरा हिन्दू जाती को आतंकवादी घोषित करना.

खैर मिश्र कि जनता ने पुरे संसार के लिए बहुत ही नायब उदहारण पेश किया हैं, देखते हैं कि भारत कि जनता अपने देश के विकास के लिए क्या करती हैं.

जय हिंद.
Post a Comment