Tuesday, October 12, 2010

चोर -चोर चोर , जल्दी पकड़ो नहीं तो भाग जायेगा- तारकेश्वर गिरी.

चोर चोर चिल्लाता हुआ एक आदमी गली में दौड़ रहा हैं, उसके पीछे उसकी बीबी आपने बच्चो को साथ लिए दौड़ रही हैं, उसकी बीबी भी चोर चोर चिल्ला रही हैं, साथ में बच्चे भी चोल चोल चिल्ला रहे हैं।
पहले तो किसी के समझ में नहीं आया कि माज़रा क्या हैं, लेकिन जब आदमी अपनी गली से निकल कर के दूसरी गली में पहुंचा तो देखा कि चोर तो नदारत हैं, कुछ आदमी इधर उधर घूम रहे हैं, उसी दौरान उसकी बीबी भी अपने बच्चो के साथ गली मुडती हैं और जोर से चिल्लाती हैं चोर चोर पकड़ो नहीं तो भाग जायेगा ।
अगला सीन :
गली में तुरंत भीड़ जमा हो जाती हैं और उस आदमी को चोर समझ कर के पीटने लगती हैं, जब तक उसकी बीबी अपने बच्चो के साथ पहुँचती तब तक भीड़ ने अपने - अपने हाथ का दर्द उस बेचारे आदमी को दे दिया।
ऐसा ही कुछ आज कल हमारे मोहल्ले में भी हो रहा हैं, हमारे मोहल्ले का मतलब ब्लॉग जगत :-
कुछ ब्लोगेर लोगो के फर्जी नाम से टिप्पड़ी करते हैं , तो कुछ गाली गलोज, तो कुरान कि पोल खोलने में लगे हुए हैं तो कुछ हिन्दू देवी देवातावो को अपना बनाने पर लगे हुए हैं।
आज पहली बार मेरे नाम से किसी सज्जन पुरष ने टिप्पड़ी कि हैं, उसका लिंक दे रहा हूँ -

3 comments:

राज भाटिय़ा said...

बाबा मस्त रहो जी,

भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...

जिस का जो काम है वही तो करेगा..

Ravindra Nath said...

गिरी जी आपको तो मालूम भी चल गया कि काम किसका था (आखिर उस टिप्पणी पर click करने से लिंक तो लिखने वाले का ही खुलेगा) अब यह तो जग जाहिर सी बात है कि यह काम इस गुट का ही है और यह लोग इसमे माहिर हैं (Ph.D कर चुके हैं), अगर कोइ दूसरा होता तो आश्चर्य होता।