Sunday, April 4, 2010

एक पाकिस्तानी के बदले मैं १७ भारतीय -2

एक पाकिस्तानी के बदले मैं १७ भारतीयपाकिस्तानी की मौत हुई ये बात तो सत्य है , वजह थी शराब बेचने की होड़क्या शारजाह पुलिश को इस बात की खबर नहीं थी, की उसके यंहा भारतीय और पाकिस्तानी दोनों मिलकर के शराब बेच रहे हैं

पाकिस्तानी की हत्या में पचास लोग गिरफ्तार किये गए , मगर उसमे से सिर्फ सत्रह हिंदुवो को ही दोषी पाया गया, क्योंकि बाकि सब पाकिस्तानी मुस्लमान थे

क्या कभी किसी ने ये सोचा है की उन सत्रह भारतीयों के परिवार वालो का क्या दोष है

क्या शरियत कानून में मौत की सजा के अलावा और कोई सजा नहीं है ? क्या ये सजा उम्र कैद में नहीं बदली जा सकती ?

भारत में तीन सौ लोगो की हत्या में शामिल कसाब अब रोज नए पैतरे बदल रहा हैहमारे ही देश के गद्दार वकील उसकी जान बचने में लगे हुए हैंरोज नए - नए साबुत पेश किये जाते हैंसंसद पर हमला करने वाले प्रमुख अभियुक्त को फांसी की सजा सुना दिए जाने के बाद भी सरकार उसे फांसी नहीं दे पा रही है

इसका मतलब ये नहीं की हमारा कानून कमजोर है , हमारे देश में माफ़ कर देने की परंपरा हैसुबह का भूला अगर शाम को घर वापस जाये तो उसे भूला नहीं कहते

17 comments:

कृष्ण मुरारी प्रसाद said...

खरी खरी बात....
अच्छी प्रस्तुति......
http://laddoospeaks.blogspot.com/

Tarkeshwar Giri said...

Shukra hai janab ki hamara desh mahan hai

L.R.Gandhi said...

शरियत के क़ानून अल्लाह के बन्दे पैगम्बर मोहम्मद के बनाये हुए हैं और काफिरों के लिए इन में कोई रियायत नहीं हो सकती -अल्लाह पैगम्बर और मोमिनों से कहते हैं 'जब काफिरों से तुम्हारी मुठभेड़ हो, तो उनकी गर्दने उड़ा दो और तब तक एसा करते रहो जब तक उनमें से बहुतों का वध न हो जाये और बाकिओं को जल्दी बंधक बना लो। (कुरआन ४७.४-५) ..वे जहाँ कहीं भी तुम्हें मिलें , उनका वध कर दिया जाये।( कुरआन २३.६०-४-६४)

भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...

यही है इस्लामिक संस्कृति और हमारी धर्मनिरपेक्षता में अंतर... और हिन्दू खून तथा मुस्लिम खून में अंतर.
अबू आजमी और एक मुस्लिम कांग्रेसी विधायक ने आतंकवादियों को सहायता दी दोनों मौज कर रहे हैं..
अबू आजमी ताज से सऊदी अफसरों को निकाल कर लाया था जबकि पूरे होटल को हाईजैक कर रखा था..
प्रज्ञा जेल में, अफजल की फांसी पर रोक..
यह हिन्दुस्तान है! सारी इंडिया...

भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...
This comment has been removed by the author.
भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...
This comment has been removed by the author.
भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...

एक ही कमेंट कई बार पोस्ट हो गया..

भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...
This comment has been removed by the author.
भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...
This comment has been removed by the author.
भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...
This comment has been removed by the author.
भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...
This comment has been removed by the author.
भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...
This comment has been removed by the author.
VICHAAR SHOONYA said...

yahi hota rahega. islam me dusare dharm valon ke sath paraspar sahjivita ki bhawana bilkul bhi nahin hai. ahinsa parmo dharm yah sandesh sirf hindu vichardhara hi deti hai. aur sirf hindustan ka kanun hi kahata hai ki chahe 100 hatyaree kasab jaise chhut jaye par ek begunah ko saja na ho.
hame kuchh to badalana hi padega.

माधव said...

खरी बात,

राज भाटिय़ा said...

भारतीय नागरिक -L.R.Gandhi जी की टिपण्णियो से सहमत है जी

सुनील दत्त said...
This comment has been removed by the author.
सुनील दत्त said...

जनाब भूला तो उसे कहते हैं जो गलती से एक आधवार अराध करे पर जो इसलाम के नाम पर सदियों से खून बहाते चले आ रहे हैं वो आदमखोर हैं उनका अन्त ही हमारी रक्षा की गारंटी है।