Sunday, May 24, 2009

रेल गाड़ी में मुफ्त सफर- छात्रो के लिए

ये ख़बर बहुत अच्छी तो नही हैं मगर फिर भी ठीक है, क्योंकि छात्र तो पहले से ही मुफ्त सफर का आनंद उठाते रहे हैं / आज तक कौन से छात्र ने टिकेट ख़रीदा है, अगर ख़रीदा भी है तो सिर्फ़ जुर्माने से बचने के लिए और वो भी पुरे साल में एक बार या दो बार। लेकिन फिर भी ममता जी का कदम ठीक है कम से कम छात्रो को सरकारी लाइसेंस तो मिल ही जाएगा/ और देखा जाए तो ममता जी के इस कदम से रेल मंत्रालय को कोई नुकसान तो होने वाला है नही/ पहले ही कौन सा टिकेट खरीदते थे,

लालू जी को जरुर अस्चर्या होगा की घाटे में जा रही ट्रेन को मैंने ही तो फायदा ला कर के दिखाया , ये वाला आइडिया कयों नही आया /

खैर मेरे छात्र बंदू अ़ब मजे से टेंशन फ्री हो कर के यात्रा करो / मुझे तो अफसोश इस बात का है की हमारे ज़माने में एसा मंत्री क्यों नही हुआ /

No comments: